आज का हिन्दू पंचांग

दिनांक 17 अगस्त 2020

⛅️ दिनांक 17 अगस्त 2020
⛅️ दिन – सोमवार
⛅️ विक्रम संवत – 2077 (गुजरात – 2076)
⛅️ शक संवत – 1942
⛅️ अयन – दक्षिणायन
⛅️ ऋतु – वर्षा
⛅️ मास – भाद्रपद (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार – श्रावण)
⛅️ पक्ष – कृष्ण
⛅️ तिथि – त्रयोदशी दोपहर 12:35 तक तत्पश्चात चतुर्दशी
⛅️ नक्षत्र – पुनर्वसु सुबह 06:44 तक तत्पश्चात अश्लेशा
⛅️ योग – व्यतिपात 18 अगस्त प्रातः 03:32 तक तत्पश्चात वरीयान्
⛅️ राहुकाल – सुबह 07:43 से सुबह 09:19 तक
⛅️ सर्योदय – 06:18
⛅️ सर्यास्त – 19:06
⛅️ दिशाशूल – पूर्व दिशा में
⛅️ वरत पर्व विवरण – मासिक शिवरात्रि

💥 विशेष – त्रयोदशी को बैंगन खाने से पुत्र का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

कर्ज-मुक्ति के लिए मासिक शिवरात्रि

हर मासिक शिवरात्रि को सूर्यास्‍त के समय घर में बैठकर अपने गुरुदेव का स्मरण करके शिवजी का स्मरण करते- करते ये 17 मंत्र बोलें, जिनके सिर पर कर्जा ज्यादा हो, वो शिवजी के मंदिर में जाकर दिया जलाकर ये 17 मंत्र बोले।इससे कर्जा से मुक्ति मिलेगी

  1. ॐ शिवाय नम:
  2. ॐ सर्वात्मने नम:
  3. ॐ त्रिनेत्राय नम:
  4. ॐ हराय नम:
  5. ॐ इन्द्र्मुखाय नम:
  6. ॐ श्रीकंठाय नम:
  7. ॐ सद्योजाताय नम:
  8. ॐ वामदेवाय नम:
  9. ॐ अघोरह्र्द्याय नम:
  10. ॐ तत्पुरुषाय नम:
  11. ॐ ईशानाय नम:
  12. ॐ अनंतधर्माय नम:
  13. ॐ ज्ञानभूताय नम:
  14. ॐ अनंतवैराग्यसिंघाय नम:
  15. ॐ प्रधानाय नम:
  16. ॐ व्योमात्मने नम:
  17. ॐ युक्तकेशात्मरूपाय नम:

आर्थिक परेशानी से बचने हेतु

  • हर महीने में शिवरात्रि (मासिक शिवरात्रि – कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी) को आती है | तो उस दिन जिसके घर में आर्थिक कष्ट रहते हैं वो शाम के समय या संध्या के समय जप-प्रार्थना करें एवं शिवमंदिर में दीप-दान करें ।
  • और रात को जब 12 बज जायें तो थोड़ी देर जाग कर जप और एक श्री हनुमान चालीसा का पाठ करें।तो आर्थिक परेशानी दूर हो जायेगी।
  • प्रति वर्ष में एक महाशिवरात्रि आती है और हर महीने में एक मासिक शिवरात्रि आती है।
  • उस दिन शाम को बराबर सूर्यास्त हो रहा हो उस समय एक दिया पर पाँच लंबी बत्तियाँ अलग-अलग उस एक में हो शिवलिंग के आगे जला के रखना। बैठ कर भगवान शिवजी के नाम का जप करना प्रार्थना करना। इससे व्यक्ति के सिर पे कर्जा हो तो जल्दी उतरता है, आर्थिक परेशानियाँ दूर होती है।
AakashVaani | आकाशवाणी वैदिक ज्योतिष
आकाशवाणी वैदिक ज्योतिष

नकारात्मक ऊर्जा मिटाने के लिए

घर में हर अमावस अथवा हर १५ दिन में पानी में खड़ा नमक (१ लीटर पानी में ५० ग्राम खड़ा नमक) डालकर पोछा लगायें । इससे नेगेटिव एनेर्जी चली जाएगी । अथवा खड़ा नमक के स्थान पर गौझरण अर्क भी डाल सकते हैं ।

धन-धान्य व सुख-संम्पदा के लिए

हर अमावस्या को घर में एक छोटा सा आहुति प्रयोग करें।

सामग्री : १. काले तिल, २. जौं, ३. चावल, ४. गाय का घी, ५. चंदन पाउडर, ६. गूगल, ७. गुड़, ८. देशी कर्पूर, गौ चंदन या कण्डा।

विधि: गौ चंदन या कण्डे को किसी बर्तन में डालकर हवनकुंड बना लें, फिर उपरोक्त ८ वस्तुओं के मिश्रण से तैयार सामग्री से, घर के सभी सदस्य एकत्रित होकर नीचे दिये गये देवताओं की १-१ आहुति दें।

🔥 आहुति मंत्र 🔥

  • १. ॐ कुल देवताभ्यो नमः
  • २. ॐ ग्राम देवताभ्यो नमः
  • ३. ॐ ग्रह देवताभ्यो नमः
  • ४. ॐ लक्ष्मीपति देवताभ्यो नमः
  • ५. ॐ विघ्नविनाशक देवताभ्यो नमः

Source: Astrology Group

You may also like...