Category: वैदिक ज्योतिष

AkashVani Astrology Post

आज का हिन्दू पंचांग

विष्णु के तीन हजार पवित्र नाम (विष्णुसहस्त्रनाम) जप के द्वारा प्राप्त परिणाम ( पुण्य ), केवल एक बार कृष्ण के पवित्र नाम जप के द्वारा प्राप्त किया जा सकता है।

AkashVani Astrology Post

आज का हिन्दू पंचांग

विष्णु के तीन हजार पवित्र नाम (विष्णुसहस्त्रनाम) जप के द्वारा प्राप्त परिणाम ( पुण्य ), केवल एक बार कृष्ण के पवित्र नाम जप के द्वारा प्राप्त किया जा सकता है।

AkashVani Astrology Post

आज का हिन्दू पंचांग

विष्णु के तीन हजार पवित्र नाम (विष्णुसहस्त्रनाम) जप के द्वारा प्राप्त परिणाम ( पुण्य ), केवल एक बार कृष्ण के पवित्र नाम जप के द्वारा प्राप्त किया जा सकता है।

AkashVani Astrology Post

आज का हिन्दू पंचांग

विष्णु के तीन हजार पवित्र नाम (विष्णुसहस्त्रनाम) जप के द्वारा प्राप्त परिणाम ( पुण्य ), केवल एक बार कृष्ण के पवित्र नाम जप के द्वारा प्राप्त किया जा सकता है।

AkashVani Astrology Post

आज का हिन्दू पंचांग

विष्णु के तीन हजार पवित्र नाम (विष्णुसहस्त्रनाम) जप के द्वारा प्राप्त परिणाम ( पुण्य ), केवल एक बार कृष्ण के पवित्र नाम जप के द्वारा प्राप्त किया जा सकता है।

AkashVani Astrology Post

आज का हिन्दू पंचांग

विष्णु के तीन हजार पवित्र नाम (विष्णुसहस्त्रनाम) जप के द्वारा प्राप्त परिणाम ( पुण्य ), केवल एक बार कृष्ण के पवित्र नाम जप के द्वारा प्राप्त किया जा सकता है।

AkashVani Astrology Post

आज का हिन्दू पंचांग

विष्णु के तीन हजार पवित्र नाम (विष्णुसहस्त्रनाम) जप के द्वारा प्राप्त परिणाम ( पुण्य ), केवल एक बार कृष्ण के पवित्र नाम जप के द्वारा प्राप्त किया जा सकता है।

AkashVani Astrology Post

आज का हिन्दू पंचांग

विष्णु के तीन हजार पवित्र नाम (विष्णुसहस्त्रनाम) जप के द्वारा प्राप्त परिणाम ( पुण्य ), केवल एक बार कृष्ण के पवित्र नाम जप के द्वारा प्राप्त किया जा सकता है।

AkashVani Astrology Post

आज का हिन्दू पंचांग

पज्य बापूजी कहते हैं कोई भी शुभ काम करना हो…घर में कोई मांगलिक प्रसंग हो तो १०८ बार “ॐ नमो भगवते वासुदेवाय |” यह १२ अक्षर का नाम बोलके शुरुआत करें तो उस काम में सफलता प्राप्त होती है |

AkashVani Astrology Post

आज का हिन्दू पंचांग

पज्य बापूजी कहते हैं कोई भी शुभ काम करना हो…घर में कोई मांगलिक प्रसंग हो तो १०८ बार “ॐ नमो भगवते वासुदेवाय |” यह १२ अक्षर का नाम बोलके शुरुआत करें तो उस काम में सफलता प्राप्त होती है |